Tuesday, 1 June 2021

Koo App : What is Koo App Koo App Owner All About Koo App

 Koo App

अगर आप सोशल मीडिया यूज़ करते है तो अपने Koo App के बारे में सुना ही होगा 

Government Blocking Social Media

हल ही में केंद्रीय सरकार ने ट्विटर पर  भड़काऊ टिप्पड़ी करने वाले बहुत से अकाउंट को ब्लॉक क्या है ऐसे लोगो में अपना अकाउंट Koo App पर बना लिया है 

Koo App Founder / Koo App Owner 

Koo App  इंटरप्रेन्योर अप्रमेय राधाकृष्ण और मयंक bidwatka  के द्वारा बना गया राधाकृष्णा ने पहले भी cabe booking service साइट बनाई थी जिसका नाम Texiforsure रखा था जिसको बाद में ओला ने खरीद लिया Koo App की  पैरेंट कंपनी Bombinate Technologies Pvt . Ltd यह इंडियन version में भी Quora की तरह है जिसका नाम वोकल है 

What is Koo App

Koo App twitter की तरह माइक्रो ब्लॉगिंग साइट है लोग इसे अपने विचार और सलाह किसी मुख्य टॉपिक पर  लिए प्रयोग करते है 
Koo App बहुत सी भारतीय भाषाओ को सपोर्ट करता है 
Koo App हिंदी सपोर्ट करता है 
Koo App तेलगु सपोर्ट करता है 
Koo App कन्नड़ सपोर्ट करता है 
Koo App बंगाली सपोर्ट करता है 
Koo App तमिल सपोर्ट करता है 
Koo App मलयालम सपोर्ट करता है 
Koo App गुजरती सपोर्ट करता है 
Koo App मराठी सपोर्ट करता है 
Koo App पंजाबी सपोर्ट करता है 
Koo App ओरिया सपोर्ट करता है 
Koo App अस्सामेसी सपोर्ट करता है 
Koo App सरकार के आंतनिभर ऐप्प के चैलेंज के बाद बनाया गया है 
Koo App यूजर ऑडियो वीडियो फोटो टेक्स्ट शेयर कर सकते है 
ट्विटर की तरह Koo App पर भी लोग एक दूसरे को डायरेक्ट मैसेज कर सकते है 

How Did Koo App Become Famous

Koo App 2020  की शुरुआत में लॉन्च हुआ 
आत्मनिर्भर ऐप्प के बाद Koo App पॉपुलर हुआ 
प्रधान मंत्री ने मन की बात में Koo App का जिक्र क्या 

Which Prominent Persons Have Their Accounts On Koo App

Piyush Goyal
Ravi Shankar Prasad
Tejasvi Surya
Shobha Karandlaje
BS Yediyurappa
Jaggi Vasudev
Javagal Srinath
Anil Kumble
Union IT Ministry
India Post
Niti Aayog

Government's Support to Koo App

Koo App को ऐसे समय में बनाया गया  जब दुनिया की सबसे बड़ी मिक्रोब्लॉगिंग साइट ने सरकार की शर्तो के अनुकूल प्रतिक्रिया नहीं दी है फिर भारत सरकार ने microbloging साइट के ख़िलाप और विकल्प लाने को बोला सरकार ने नोट क्या था की ट्विटर सरकार के निर्देशों का पालन करने के लिए बाध्य है अगर ट्विटर सरकार की बातो को मानने से मना करता है तो सरकार उसके खिलाप कार्यबाई कर सकती है सरकार को पूरी उम्मीद है की ट्विटर उसके सरे निर्देशों का पालन करेगी 





1 comment:

  1. मैंने आपके बहुत सारे आर्टिकल पढ़े है, आप बहुत ही सटीक जानकारी देते है। ये बहुत ही अच्छी जानकारी है। इसको पढ़ कर मुझे इससे जुडी सारि चीज़े पता चल गयी। यहां बहुत अच्छी जानकारी मिली।
    https://hindiwiz.in/samagra-id-ki-poori-jankari/

    ReplyDelete